Tuesday, 12 June 2018

राहुल गाँधी के जीवन का विश्लेषण

 नमस्कार दोस्तो।जय गुरु देव। दोस्तो आज हम चर्चा करेंगे श्रीमान राहुल गांधी के हाथ के बारे में।
अगर बात की जाए राहुल जी के हाथ की बात तो ये पररम्भिक श्रेणी का हाथ है।ऐसे लोग धार्मिक, न्याय पसन्द,सामाजिक ,राजनीतिक, संस्कारी किस्म के लोग होते है। ऐसे लोग गरीब घर मे भी पैदा हो कर आसमान की ऊंचाइयां छुते है।  ये बड़े राजनेता,बड़े अधिकारी,बड़े जमीदार,या धार्मिक गुरु हो सकते है।
अगर बात की जाए राहुल जी के हाथ की तो सबसे पहले  बात करते है पर्वतो की।

 गुरु पर्वत :- राहुल जी के हाथ मे गुरु पर्वत अच्छा है। ना बहुत ज्यादा उठा हुवा है ना ही दबा हुआ है। ऐसे लोग समझदार होते है। ये जीवन मे कभी भी ओवर कॉंफिडेंट नही होते है।है पूर्ण धार्मिक या ईश्वर रखने वाले है।उसके बाद बात करते है शनि पर्वत की, राहुल जी के हाथ मे शनि दबा हुआ है। ऐसे जातक को जीवन मे काफी संघर्ष का सामना करना पड़ता है।

इसके बाद बात करते है सूर्य पर्वत की जो हाथ मे अच्छा है ऐसे जातक को समाज मे विशेष सम्मान मिलता है।ओर ये उच्च पद को प्रप्त करते है। उसके बाद बात करते है बुद्ध पर्वत की अगर बात की जाए तो राहुल जी के हाथ मे बुध पर्वत दबा हुआ नजर आरहा है।बुद्ध का दबा हुआ होना अच्छा नही माना जाता,ऐसे जातक थोड़े शर्मीले स्वभाव के होते है। ऐसे जातक तुरंत प्रतिउतर देने में थोड़ी कठिनाई मह्सुश कर सकते है।लेकिन छोटी उंगली का छोटा होना उनको चतुर बनाता है। राहुल जी के हाथ मे।बुद्ध पर्वत पर बुध रेखा का होना उनको बहुत बड़ा businiss man बनाता है।या ये कह सकते है। वो आर्थिक रूप से बहुत ताकतवर होंगे। दुनिया के गिने चुने पैसे वालो में उनकी गिनती हो सकती है। उसके बाद बात करे उच्च मंगल की तो ये बहुत अच्छा है ऐसे जातक विपरीत परिस्थितियों में भी हिम्मत नही हारते। ये अपने जीवन मे अचल संपत्ति के मालिक होते है।
उसके बाद बात करते है।चन्द्र पर्वत की चन्द्र पर्वत बहुत ही सुंदर है ऐसे जातक कला के पारखी होते है। प्रकति प्रेमी होते है। भावुक होते है।संगीत प्रेमी होते है।ओर जीवन मे अनेक यात्राएं करते है। उसके बाद बात करे केतु की इनका केतु भी बहुत अच्छा है ऐसे जातक का बचपन आनंद से गुजरता है।उसके बाद बात करते है।सुक्र पर्वत की राहुल जी का सुक्र विशेष रूप से उन्नत है। ऐसे जातक राजाओ जैसा जीवन जीता है। ये सफाई पसन्द होते है।सुंदरता के।पुजारी होते है । ऐसे जातक जीवन मे।सभी प्रकारक के भौतिक सुखों का आनंद उठाते है।

 उसके बाद बात करते है निम्न मंगल की जो कि उठा हुआ है ऐसे जातक को जब गुस्सा आता है तो बड़ा खतरनाक आता है।उसके बाद बात करते राहु की जो दबा हुआ हुवा है जिसे बहुत अच्छा नही कह सकते। उसके बाद बात करते है रेखाओ की।
सबसे पहले जीवन रेखा जो कि अछि है इनकी आयु 85 +बताती है। लेकिन 56 के आसपास इनको किसी गंभीर बीमारी या संकट का सामना करना पड़ सकता है।

इसके बाद बात करते है मस्तिष्क रेखा की

राहुल जी की मस्तिक्ष रेखा बताती है ये एक आज़ादी पसन्द इंसान है।ये जीवन मे।किसी का भी दबाब बरदास्त नही कर सकते ये जीवन अपनी शर्तों पर जीने वाले इंसान है।ये बहुत ज्यादा चिंतन करने में विस्वाश नही रखते।ये मस्त मोला किस्म के इंसान है। लेकिन भावुक बहुत है अगर इनके सामने कोई मजबूर इंसान आकर रो दे तो इनकी भी आंखों में आंसू आजायेंगे।

इसके बाद बात करते है ह्रदय रेखा की इनके हाथ मे ह्रदय रेखा बहुत ही अछि है जो सम्पूर्ण रूप से गुरु पर्वत तक गयी है।ऐसे जातक जीवन मे खुद के लिए धन संचय की चिंता नही करते ,ये समाजिक कार्यो में अपना कमाया धन लगाते है।

 उसके बाद बात करते है भाग्य रेखा की इनके हाथ मे।भाग्य रेखा वैसे तो बचपन से ही है लेकिन इनके भाग्य की सुरुवात 35 के बाद होती है। जैसे जैसे इनकी आयु भड़ेगी इनका भाग्य उत्तम होता जाएगा।

इनके बाद बात करते है सूर्य रेखा की राहुल जी के हाथ मे सूर्य रेखा वैसे तो काफी पहले से दिखती है लेकिन 52 के बाद विशेष रूप से चमकती नजर आरही है ऐसे में ये कह सकते है 52 के बाद राहुल जी को विशेष पद की प्राप्ति होगी। लेकिन आफ्टर 65 के बाद इनका प्रभाव विश्व स्तरीय होगा ! राहुल जी एक बहुत ही मिलनसार इंसान है ये कहि भी किसी भी माहौल में रह सकते है। राहुल जी एक खर्चीले किस्म के इंसान है।

No comments:

Post a Comment