Friday, 21 December 2018

अगर आपके हाथ में है ये निशान तो आपको जाना चाहिए फ़िल्मी दुनिया में

नमस्कार दोस्तों जय गुरु देव ! दोस्तों जीवन में अगर सफल होना है तो सही रास्ता चुनना अति आवश्यक है !जब तक आप सही दिशा में नहीं भड़ेंगे तब तक जीवन में सफलता असंभव है ! इसी क्रम में आज हम जानेंगे फ़िल्मी दुनिया या कला के छेत्र में सफलता प्राप्त करने वाले लोगो के हाथो के बारे में !दोस्तों हाथ का आकार कोई भी हो लेकिन त्वचा मुलायम हो ,त्वचा का रंग गुलाबी हो ,हाथ में उंगलिया नुकीली हो नाख़ून भी नुकीले या pointed  हो, उंगलिया लम्बी और पतली हो ,गुरु ,शनि ,सूर्य ,बुध ,चन्द्रमा ,और शुक्र उन्नत हो !चन्द्रमा से कोई रेखा निकल कर गुरु तक जाती हो !अनामिका का दूसरा पर्व बड़ा हो ,कनिष्ठका का पहला पर्व बड़ा हो ,भाग्य और सूर्य रेखा श्रेष्ठ हो ऐसे जातक कला के छेत्र में उन्नति करते है ! इसमें भी कुछ विशेष बातो का अगर ध्यान किया जाये तो हम ये भी जान सकते है जातक को कला के किस छेत्र में प्रयाश करना चाहिए जैसे अगर उपरोक्त सभी विशेषताओ के अलावा अगर हाथ के नाख़ून गोल हो ,ह्रदय रेखा उत्तम हो,अंगूठे का प्रथम पर्व लम्बा हो ,और मस्तिष्क रेखा की एक शाखा बुध पर्वत तक जाये तो ऐसे जातक नृत्य के छेत्र में विशेष सफलता पर्पट करते है ! ऐसे ही अगर उपरोक्त विशेषताओ के अलावा बुध श्रेष्ठ हो ,बुध पर बुध रेखा हो ,शुक्र पर्वत पर वर्ग का निशान हो .अंगूठे के जोर पर कोण का निशान हो ,ह्रदय रेखा से निचे की और रेखाएं जाती हो ,या मंगल से गुरु तक कोई रेखा हो ,मस्तिष्क रेखा चंद्र पर्वत की तरफ जाती हुयी नजर आती हो ऐसे जातक संगीत के छेत्र में विशेष सफलता पाते है ऐसे लोग फ़िल्मी संगीत कार या प्रसिद्धि प्राप्त संगीतकार होते है ! ऐसे ही उपरोक्त विशेषताओ के अलावा वर्गाकार गांठ दार अंगुलिया हो,सूर्य रेखा और भाग्य रेखा श्रेष्ठ हो ,बुध पर बुध ग्रह का चिन्ह हो ,मजबूत पतला और लम्बा अंगूठा हो ,अनामिका का प्रथम पर्व लम्बा हो तो जातक सफल शिल्पकार होता है ! ऐसे ही अगर उपरोक्त विशेषताओ के अलावा अंगुलिया नुकीली पतली गांठदार हो ,अनामिका चोरस और चपटी हो ,मस्तिष्क रेखा सीधी और शाखा युक्त हो .मध्यमा लम्भी हो अनामिका का तीसरा पर्व श्रेष्ठ हो ,ह्रदय रेखा श्रेष्ठ हो ऐसे जातक सफल चित्रकार होते है !ऐसे ही अगर हाथ में उपरोक्त गुणों के अलावा हाथ में शुक्र वलय हो ,मस्तिष्क रेखा सीधी हो ,मस्तिष्क रेखा जीवन रेखा के साथ उदय हो रही हो ,अंगूठा पीछे की तरफ झुका हो ,सूर्य पर्वत पर सूर्य रेखा के अलावा  स्टार  या त्रिभुज का निशान हो ,सूर्य और भाग्य रेखा श्रेष्ठ हो बुध और गुरु विशेष रूप से उन्नत हो ,बुध की अंगुली विशेष रूप से लम्भी हो ,शुक्र पर्वत  भी उन्नत हो और कोई भी विशेष शुभ चिन्ह भी हो शनि और बुध सूर्य की तरफ झुके हुए हो तो ऐसे जातक अभिनय के छेत्र में विशेष सफलता प्राप्त करते है !इसके अलावा अगर हाथ  में अनामिका अंगुली चपटी हो ,अनामिका का तीसरा पर्व लम्बा हो ,गुरु पर्वत और सूर्य पर्वत विशेष रूप से उभरे हुए हो ,अंगूठा झुका हुवा हो ,सूर्य रेखा और भाग्य रेखा श्रेष्ठ हो ,मस्तिष्क रेखा सीधी हो तो ऐसे जातक फ़िल्मी दुनिया में या अभिनय की दुनिया में निर्देशक के रूप में सफलता प्राप्त करते है !
दोस्तों आशा है ये लेख आपको जरूर पसंद आएगा ,आपकी जो भी राय है जरूर लिखे ! अगर आप हस्त रेखा विज्ञानं सीखना चाहते है या अपना हाथ दिखाना चाहते है तो आप मुझे 8107958677 पर फ़ोन क़र सकते है ! धन्यवाद जय गुरु देव ! palmist rataan

1 comment: